Gmoney.in

Post Category: Disease Pages

मायोपिया की पूरी जानकारी (Myopia in hindi)

Myopia in hindi

मायोपिया क्या है? [What is Myopia in hindi?]

मायोपिया, जिसे शॉर्ट-साइटेडनेस भी कहा जाता है, आंख का एक सामान्य रिफ्रैक्टिव ऐरर है । यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें आईबॉल लम्बी हो जाती है, जिससे प्रकाश रेटिना पर केंद्रित होने के बजाय उसके सामने केंद्रित होता है। इसकी वजह से दूर की दृष्टि धुंधली हो जाती है, जबकि पास की चीज़ें स्पष्ट रूप से दिखाई देती हैं ।

मायोपिया आमतौर पर बचपन में विकसित होता है और किशोरावस्था के दौरान अक्सर बिगड़ जाता है | कई लोगों को शुरुआती वयस्कता से ही स्थिर दृष्टि का अनुभव होता है। हालांकि, कुछ मामलों में, मायोपिया बढ़ता जाता है, जिससे पास की दृष्टि और बिगड़ सकती है, इस वजह से अंधापन भी हो सकता है।

मायोपिया होने के कई कारण हो सकते हैं, जिनमें अनुवांशिक पूर्वाग्रह, ज़्यादा नज़दीक से पढ़ना या कंप्यूटर का उपयोग, और आउटडोर एक्टिविटी की कमी शामिल है। कुछ परिणाम बताते हैं कि पर्यावरणीय कारक, जैसे कम रोशनी का स्तर और अत्यधिक शहरीकरण भी मायोपिया के विकास में योगदान कर सकते हैं।

मायोपिया के उपचार के विकल्पों में सुधारात्मक लेंस (जैसे चश्मा या कॉन्टैक्ट लेंस), अपवर्तक सर्जरी (जैसे LASIK), और ऑर्थोकेराटोलॉजी (एक प्रकार का कॉन्टैक्ट लेंस जो रातों रात कॉर्निया को फिर से आकार देता है) शामिल हैं। इसके अलावा, यह सुझाव देने के लिए कुछ सबूत हैं कि बाहरी गतिविधियों को बढ़ाने और निकट काम को कम करने जैसे बच्चों में बढ़ते मायोपिया को कम करने में मदद कर सकते हैं।

what is myopia in hindi

मायोपिया के कारण [What are the causes of Myopia?]

मायोपिया के सटीक कारणों को पूरी तरह से समझा नहीं गया है, लेकिन ऐसा माना जाता है कि यह आनुवंशिक, पर्यावरण और जीवन शैली कारकों के संयोजन के कारण होता है। यहां कुछ मुख्य कारण दिए गए हैं:

जेनेटिक्स: मायोपिया अक्सर परिवारों में चलता है, यह दर्शाता है कि स्थिति के लिए एक आनुवंशिक घटक है। अनुसंधान ने 100 से अधिक जींस की पहचान की है जो मायोपिया से जुड़े हो सकते हैं, हालांकि विशिष्ट आनुवंशिक तंत्र अभी भी अच्छी तरह से समझ में नहीं आए हैं।

पर्यावरणीय कारक: पर्यावरणीय कारक, जैसे देर तक पढ़ना और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करना, मायोपिया के बढ़ते जोखिम से जुड़ा हुआ है। दूसरी ओर, अधिक समय बाहर बिताने से मायोपिया का खतरा कम होता है।

जीवन शैली के कारक: जीवनशैली के कुछ कारक, जैसे कि शारीरिक गतिविधि की कमी और खराब आहार, मायोपिया के विकास में योगदान कर सकते हैं।

उम्र: मायोपिया आमतौर पर बचपन और किशोरावस्था के दौरान विकसित होता है, जब आंख का विकास हो रहा होता है । वयस्कता में स्थिति स्थिर हो जाती है, हालांकि यह अभी भी कुछ मामलों में प्रगति कर सकती है।

स्वास्थ्य सम्बन्धी स्थिति में: कुछ बीमारियां जैसे डायबिटीज मायोपिया के जोखिम को बढ़ा सकती हैं। इसके अलावा, कुछ दवाओं के दुष्प्रभाव हो सकते हैं जो मायोपिया का कारण बन सकते हैं या और बढ़ा सकते हैं

कुल मिलाकर, मायोपिया एक जटिल स्थिति है जो विभिन्न प्रकार के कारणों से प्रभावित हो सकती है। यदि आप अपनी दृष्टि के बारे में चिंतित हैं या परिवार में किसी को मायोपिया है, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने नेत्र चिकित्सक से बात करें और अपनी दृष्टि की देखभाल के लिए नियमित रूप से आंखों की जांच कराएं और किसी भी समस्या का जल्द पता लगा लें।

मायोपिया के लक्षण [What are the symptoms of Myopia?]

मायोपिया के कुछ सबसे सामान्य लक्षण यहां दिए गए हैं:

  • धुंधली दृष्टि: मायोपिया के सबसे आम लक्षणों में से एक धुंधली दृष्टि है, खासकर जब दूर की वस्तुओं को देखते हैं। इससे चिह्नों को पढ़ना या चेहरों को दूर से पहुंचना कठिन हो सकता है।
  • स्क्विंटिंग: स्क्विंटिंग मायोपिया के लिए एक प्राकृतिक प्रक्रिया है, क्योंकि यह आंख में प्रवेश करने वाले प्रकाश की मात्रा को कम करके अस्थायी रूप से दृष्टि में सुधार करने में मदद कर सकता है।
  • आंखों का तनाव: मायोपिया वाले लोगों को आंखों में तनाव या थकान का अनुभव हो सकता है, खासकर लंबे समय तक पढ़ने, लिखने या कंप्यूटर या स्मार्टफोन का उपयोग करने के बाद।
  • सिरदर्द: मायोपिया भी सिरदर्द का कारण बन सकता है, खासकर अगर आंखें दूर की वस्तुओं पर ध्यान केंद्रित करने की कोशिश कर रही हों।
  • ड्राइविंग में कठिनाई: मायोपिया वाले लोगों को ड्राइविंग में कठिनाई हो सकती है, खासकर रात में, जब वस्तुओं को देखना अधिक कठिन होता है।
  • लगातार चश्मा या कॉन्टैक्ट लेंस के नुस्खे में बदलाव : मायोपिया एक प्रगतिशील स्थिति है, जिसका अर्थ है कि समय के साथ निकट दृष्टि दोष की डिग्री बढ़ सकती है। नतीजतन, मायोपिया वाले लोगों को अपने चश्मे या कॉन्टैक्ट लेंस के नुस्खे को बार-बार अपडेट करने की आवश्यकता हो सकती है।
  • बिगड़ा हुआ गहराई का बोध: मायोपिया दृष्टि की गहराई को भी बिगाड़ सकता है, जिससे दूरियों का सही-सही आंकलन करना मुश्किल हो जाता है।
 
यदि आप इनमें से किसी भी लक्षण का अनुभव करते हैं, तो नेत्र परीक्षण के लिए नेत्र चिकित्सक के पास जाना महत्वपूर्ण है। मायोपिया का इलाज सुधारात्मक लेंस के साथ किया जा सकता है, जैसे चश्मा या कॉन्टैक्ट लेंस, या कुछ मामलों में अपवर्तक सर्जरी भी कारगर होती है ।
meaning of myopia in hindi

मायोपिया की रोकथाम [How to prevent Myopia?]

मायोपिया, जिसे निकट दृष्टि दोष के रूप में भी जाना जाता है, एक जटिल स्थिति है जो विभिन्न प्रकार के कारणों से प्रभावित हो सकती है | मायोपिया के विकास और उसके जोखिम को कम करने या इसकी प्रगति को धीमा करने में मदद के लिए आप कई कदम उठा सकते हैं। मायोपिया को रोकने के कुछ सबसे प्रभावी तरीके यहां दिए गए हैं:

 

  • बाहर समय बिताएं: अध्ययनों से पता चला है कि अधिक समय बाहर बिताने से मायोपिया के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।  बच्चों के लिए आउटडोर एक्टिविटी ख़ास ज़रूरी है। प्रतिदिन कम से कम 2 घंटे बाहर दिन के प्रकाश में बिताने की सलाह दी जाती है।
  • स्क्रीन पर काम करने से ब्रेक लें: लंबे समय तक पढ़ने, लिखने या कंप्यूटर, स्मार्टफोन का उपयोग करने से मायोपिया का खतरा बढ़ सकता है। बार-बार ब्रेक लेने और हर 20 मिनट में स्क्रीन या किताब से दूर देखने और आंख की मांसपेशियों को आराम देने के लिए किसी दूर की वस्तु पर ध्यान केंद्रित करने की सलाह दी जाती है।
  • सही पॉस्चर बनाए रखें: खराब पॉस्चर से आंखों में खिंचाव हो सकता है और मायोपिया का विकास हो सकता है। पढ़ने, लिखने या इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करते समय अच्छी मुद्रा बनाए रखना महत्वपूर्ण है।
  • एक स्वस्थ आहार का पालन करें: एक स्वस्थ आहार जो विटामिन और खनिजों से भरपूर होता है, विशेष रूप से विटामिन ए और सी, आंखों के स्वास्थ्य का समर्थन करने और मायोपिया के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है।
  • नियमित रूप से नेत्र चिकित्सक के पास जाएँ: नियमित आँखों की जाँच से किसी भी दृष्टि परिवर्तन का जल्द पता लगाने में मदद मिल सकती है और शीघ्र उपचार की अनुमति मिल सकती है।
  • उचित प्रकाश का प्रयोग करें: पढ़ने, लिखने या इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करते समय पर्याप्त प्रकाश होना महत्वपूर्ण है। सुनिश्चित करें कि प्रकाश स्रोत बहुत उज्ज्वल या बहुत मंद नहीं है और स्क्रीन या पुस्तक पर चमक का कारण नहीं बनता है।
  • दृष्टि की समस्याओं को जल्दी ठीक करें: यदि आपके पास मायोपिया का पारिवारिक इतिहास है या आपकी दृष्टि में कोई बदलाव दिखाई देता है, तो आंखों की जांच और सुधारात्मक लेंस के लिए नेत्र चिकित्सक के पास जाना जरूरी है।
 

हालांकि मायोपिया को पूरी तरह से रोकना संभव नहीं हो सकता है, इन कदमों को उठाने से स्थिति विकसित होने या इसकी प्रगति को धीमा करने के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।

How to treat Myopia

मायोपिया का इलाज [How to treat Myopia?]

सुधारात्मक लेंस: सुधारात्मक लेंस, जैसे चश्मा या कॉन्टैक्ट लेंस, मायोपिया के लिए सबसे आम उपचार हैं। वे मायोपिया का कारण बनने वाले रिफ्रैक्टिव एरर को ठीक करते हैं। चश्मा या कॉन्टैक्ट लेंस को नियमित रूप से अपडेट करने की आवश्यकता हो सकती है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि वे उचित सुधार प्रदान करते हैं।

  • अपवर्तक सर्जरी: अपवर्तक सर्जरी, जैसे LASIK, PRK, या SMILE, का उपयोग कुछ मामलों में मायोपिया के इलाज के लिए भी किया जा सकता है। मायोपिया का कारण बनने वाली अपवर्तक त्रुटि को ठीक करने के लिए ये प्रक्रियाएं कॉर्निया को फिर से आकार देती हैं। अपवर्तक सर्जरी आमतौर पर केवल स्थिर दृष्टि वाले वयस्कों और मध्यम से गंभीर मायोपिया के लिए होती हैं।
  • ऑर्थोकेराटोलॉजी: ऑर्थोकेराटोलॉजी, या “ऑर्थो-के,” एक गैर-सर्जिकल उपचार है जिसमें कॉर्निया को अस्थायी रूप से ठीक करने के लिए, रात भर विशेष कठोर कांटेक्ट लेंस पहनने की सलाह दी जाती है । इसके उपचार का उपयोग अक्सर बच्चों और युवा वयस्कों में हल्के से मध्यम मायोपिया के लिए किया जाता है।
  • एट्रोपिन आई ड्रॉप्स: बच्चों में मायोपिया की प्रगति को धीमा करने के लिए एट्रोपिन आई ड्रॉप्स का उपयोग किया जा सकता है। ये बूंदें आंख की मांसपेशियों को अस्थायी रूप से आराम देने का काम करती हैं, जो समय के साथ आंखों को बढ़ने और निकट दृष्टिहीन होने से रोकने में मदद कर सकती हैं।
  • मल्टीफोकल कॉन्टैक्ट लेंस: मल्टीफोकल कॉन्टैक्ट लेंस का उपयोग एक ही समय में मायोपिया और प्रेस्बायोपिया (उम्र से संबंधित दूरदर्शिता) को ठीक करने के लिए किया जा सकता है, विशेषकर वृद्ध वयस्कों में, जिनमें दोनों स्थितियां होती हैं।
  • विजन थेरेपी: विजन थेरेपी में व्यायाम और गतिविधियों की एक श्रृंखला शामिल होती है जो आंखों के समन्वय और ध्यान केंद्रित करने की क्षमता में सुधार करने के लिए डिज़ाइन की गई हैं। इसका उपयोग मायोपिया के कुछ मामलों में किया जा सकता है, खासकर जब स्थिति अन्य दृष्टि समस्याओं से जुड़ी हो, जैसे कि स्ट्रैबिस्मस (आई मिसअलाइन्मेंट )।
  • यदि आपके पास मायोपिया है, तो आपके लिए सबसे अच्छा उपचार दृष्टिकोण निर्धारित करने के लिए नेत्र चिकित्सक से मिलना महत्वपूर्ण है। उचित उपचार और प्रबंधन के साथ, मायोपिया को प्रभावी ढंग से ठीक किया जा सकता है, जिससे आप अधिक स्पष्ट और आराम से देख सकते हैं।

निष्कर्ष [Conclusion]

अंत में, मायोपिया, या नज़दीकी दृष्टि, एक सामान्य दृष्टि स्थिति है जो दुनिया भर के कई लोगों को प्रभावित करती है। यह पास की वस्तुओं को स्पष्ट रूप से देखने की क्षमता की विशेषता है, जबकि दूर की वस्तु धुंधली दिखाई देती हैं। मायोपिया आंख में एक अपवर्तक त्रुटि के कारण होता है, जो आनुवंशिक और पर्यावरणीय दोनों कारकों से प्रभावित हो सकता है। हालांकि मायोपिया को पूरी तरह से रोकना संभव नहीं हो सकता है |

myopia in hindi

मायोपिया के उपचार विकल्पों में सुधारात्मक लेंस, अपवर्तक सर्जरी, ऑर्थोकेरेटोलॉजी, एट्रोपिन आई ड्रॉप्स, मल्टीफोकल कॉन्टैक्ट लेंस और दृष्टि चिकित्सा शामिल हैं। यदि आपको मायोपिया है या आपकी दृष्टि में कोई परिवर्तन दिखाई देता है, तो आंखों की जांच और उचित उपचार के लिए नेत्र चिकित्सक के पास जाना महत्वपूर्ण है। उचित प्रबंधन के साथ, मायोपिया को प्रभावी ढंग से ठीक किया जा सकता है, जिससे आप स्पष्ट और आराम से देख सकते हैं।

तो ये कुछ सबसे महत्वपूर्ण टिप्स हैं जो आपको टीबी के बारे में और जानने में मदद करेंगे और यदि आप अन्य बीमारियों के बारे में अधिक जानना चाहते हैं तो हमारे ब्लॉग पेज पर जाएँ और यदि आप हमारे
यूट्यूब वीडियो देखना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें

यदि आप इस बात को लेकर चिंतित हैं कि आप एक बड़ी मेडिकल सर्जरी का खर्चा कैसे उठा पाएंगे, तो जीएमनी (GMoney) आपकी मदद कर सकता है। हम नो-कॉस्ट ईएमआई (EMI) पर मेडिकल इमरजेंसी फंड की पेशकश करते हैं। यानी इसे बिना किसी ब्याज के किश्तों में चुकाया जा सकता है। हमने इस सेवा को वित्तीय बोझ के बारे में चिंता किए बिना लोगों को आवश्यक चिकित्सा उपचार प्राप्त करने में मदद मिले इसलिए डिज़ाइन किया है। यह नो-कॉस्ट ईएमआई (EMI) विकल्प प्रदान करके, जीएमनी (GMoney) बनाता है चिकित्सा प्रक्रियाएं उन लोगों के लिए अधिक सुलभ और सस्ती, जिन्हें इसकी आवश्यकता है।

Recent Blog

Follow us

Myopia in hindi